Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

इस भारतीय रेल वेब पोर्टल की डिजाईन, विकास एवं पोषण रेल मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से रेलवे सूचना प्रणाली केंद्र (क्रिस) द्वारा किया जाता है।

यद्यपि कि इस पोर्टल की विषयवस्‍तु को सटीक एवं अद्यतन बनाने का हर संभव प्रयास किया गया है तथापि इसे विधि द्वारा घोषित विवरण नहीं माना जाना चाहिए और न ही किसी कानूनी उद्देश्‍यों के लिए इसका उपयोग किया जाना चाहिए। विषयवस्‍तुओं की सटीकता, पूर्णता, उपयोगिता या अन्‍यथा के लिए क्रिस किसी प्रकार से जिम्‍मेवार नहीं है। प्रयोक्‍तओं को संबंधित सरकारी विभागों और / या अन्‍य स्रोतों से किसी भी सूचना की पुष्‍टि/ जांच करने की सलाह दी जाती है तथा पोर्टल पर उपलब्‍ध सूचना पर कार्रवाई करने से पहले कोई उपयुक्‍त पेशेवार व्‍यक्‍ति की सलाह प्राप्‍त कर लें।

इस पोर्टल के प्रयोग के कारण या इससे संबंधित किसी भी प्रकार के व्‍यय, हानि या क्षति जिसमें प्रत्‍यक्ष या अप्रत्‍यक्ष रुप से होने वाले असीमित परिणामी हानि या क्षति या कोई अन्‍य व्‍यय, हानि या क्षति शामिल है, के लिए भारतीय रेलवे किसी भी प्रकार से जिम्‍मेवार नहीं होगा।

इस पोर्टल में शामिल किए गए अन्‍य वेबसाइटों की लिंकें केवल प्रयोक्‍ताओं की सुविधा के लिए ही है। लिंक किए गए वेबसाइटों की विषयवस्‍तुओं या विश्‍वासनीयता के लिए क्रिस जिम्‍मेवार नहीं होगा तथा उनके द्वारा व्‍यक्‍त किए गए विचारों से आवश्‍यक रूप से सहमत नहीं है। हम हर पल उक्‍त लिंक पेजों की उपलब्‍धता की गारंटी प्रदान नहीं करते हैं।

इस पोर्टल पर दी गई सामग्री की पुनर्प्रस्‍तुति ईमेल पर हमारी अनुमति प्राप्‍त करने के बाद की जा सकती है।फिर भी सामग्री को सटीक रूप से प्रस्‍तुत किया जाना चाहिए तथा विचलित पद्धति या किसी भ्रमक संदर्भ में प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए। जहां कहीं भी सामग्री का प्रकाशन किया जा रहा हो या दूसरों को जारी किया जा रहा हो, तो उसके स्रोत का आवश्‍यक रूप से स्‍वीकारोक्‍ति दी जानी चाहिए। फिर भी इस सामग्री की पुनर्प्रस्‍तुति की अनुमति किसी ऐसी सामग्री के लिए नहीं होगी जिसकी पहचान किसी तीसरी पार्टी की स्‍वत्‍वाधिकार के रूप में की गई हो। उस प्रकार की सामग्री की प्रनुर्प्रस्‍तुति की अनुमति संबंधित विभागों/ स्‍वत्‍वधिकार धारियों से प्राप्‍त की जाएगी।

ये निबंधन एवं शर्तें भारतीय कानूनों के अनुसार शासित एवं लागू होंगे। इन निबंधन एवं शर्त्तों के अंतर्गत उठने वाले कोई भी विवाद भारतीय न्‍यायालयों के अनन्‍य क्षेत्राधिकार के अधीन होंगे।




Source : मेट्रो रेलवे कोलकता / भारतीय रेल का पोर्टल CMS Team Last Reviewed on: 06-05-2015